पाकिस्तान के बलूचिस्तान में एक मस्जिद के पास बम धमाका हुआ है, जिसमें 52 लोगों की मौत हो गई है । मरने वालों में एक पुलिसकर्मी भी शामिल है। यह घटना शुक्रवार को मस्तुंग जिले में हुई है। बम धमाका उस वक्त हुआ, जब लोग ईद मिलादउन नबी के आयोजन में जुटे थे । असिस्टेंट कमिश्नर अताउल्लाह मुनीम ने बताया कि बम धमाके का असर इसलिए ज्यादा हुआ है क्योंकि मौके पर भारी भीड़ थी ।

मस्तुंग शहर के असिस्टेंट कमिश्नर ने बताया कि ब्लास्ट DSP नवाज गिशकोरी की कार के पास हुआ। जियो न्यूज के मुताबिक, हमले में जिस पुलिस ऑफिसर की मौत हुई है वो DSP नवाज ही हैं। बलूचिस्तान के कार्यवाहक सूचना मंत्री जन अचकजई ने बताया कि सभी घायलों को अस्पताल भेजा गया है। जरूरत पड़ी तो उन्हें कराची शिफ्ट किया जाएगा। घायलों के इलाज की पूरी जिम्मेदारी सरकार उठाएगी।

बलूचिस्तान के चीफ मिनिस्टर ने पूरे प्रांत में 3 दिन के शोक का ऐलान किया है । बलूचिस्तान में एक्टिव आतंकी संगठन तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान यानी TTP ने कहा है कि इस विस्फोट के पीछे उनका हाथ नहीं है।

आत्मघाती हमले में घायल हुए लोगों को मस्तुंग के अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

यह बम धमाका क्‍यों हुआ और इसके पीछे कौन थे। इस बात का खुलासा नहीं हुआ है।

इसी जिले में महीने की शुरुआत में भी एक बम ब्लास्ट हुआ था। इसमें 4 लोग घायल हो गए थे। पुलिस ने बताया कि इस घटना में करीब 430 लोग जख्मी हुए हैं। यह आत्मघाती हमला बताया जा रहा है। पाकिस्तानी चैनलों पर दिखता है कि शवों का ढेर जमीन पर पड़ा है और जहां-तहां खून बिखरा है।

बलूचिस्तान के गृह मंत्री जान अचाकजई ने कहा कि बचाव टीमों को मस्तुंग भेजा गया है। गंभीर रूप से
घायल लोगों को क्वेटा के अस्पतालों में भेजा गया है। इसके अलावा सभी अस्पतालों में आपातकाल
घोषित किया गया है ताकि घायलों को तुरंत एडमिट करके इलाज शुरू हो सके। अचाकजई ने कहा कि
यह धमाका बहुत तीव्र था और इसका असर काफी दूर तक महसूस किया गया।

सूचना मंत्री बोले- विदेशी ताकतों की मदद से बलूचिस्तान में शांति भंग कर रहे दुश्मन

अचकजई ने कहा- हमारे दुश्मन विदेशी ताकतों की मदद से बलूचिस्तान में धार्मिक जगहों को निशाना बनाकर शांति भंग करना चाहते हैं। इस तरह के हमले बर्दाश्त नहीं किए जाएंगे। बलूचिस्तान में सरकार के मंत्रियों और दूसरे कई नेताओं ने हमले की निंदा की है।

पाकिस्तान के PM, राष्ट्रपति ने हमले की निंदा की पाकिस्तान के केयरटेकर प्रधानमंत्री अनवार-उल-हक काकड़ ने भी इस हमले की निंदा की है। काकड़ ने मरने वालों के परिजन के प्रति संवेदनाएं व्यक्त की हैं। साथ ही उन्होंने अधिकारियों को घायलों को हरसंभव मदद पहुंचाने का आदेश दिया है। राष्ट्रपति आरिफ अल्वी ने दुख जताया है ।

Leave a Reply