कोटा को जल्द मिलेगी बीएसएल 3 प्लस लैब

कोटा 28 दिसंबर। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला के प्रयासों से कोटा संभाग को जल्द ही एक बड़ी सौगात मिलेगी। केंद्र सरकार ने कोटा में 17 करोड़ की लागत से बीएसएल 3प्लस लैब स्थापित करने की सैद्धांतिक सहमति दे दी है। इस लैब की स्थापना के बाद निपाह और इबोला जैसे वायरस जो सामान्यतः भारत में नहीं पाए जाते, उनकी पहचान करना आसान हो जाएगा। कोटा में पूर्व में ही स्वीकृत बीएसएल 2प्लस लैब के लिए भी डेढ़ करोड़ रू स्पीकर बिरला ने मंगलवार को जिला प्रशासन और मेडिकल काॅलेज प्रशासन के साथ आयोजित बैठक में यह जानकारी दी।

ओमिक्राॅन की तैयारियों की समीक्षा के लिए आयोजित बैठक में स्पीकर बिरला ने पहले मेडिकल काॅलेज में उपलब्ध व्यवस्थाओं की जानकारी ली। इसके बाद उन्होंने अधिकारियों को टेस्टिंग बढ़ाने, उपचार संबंधी काम जो अभी अधूरे हैं उन्हें जल्द से जल्द पूरा करने तथा जिन उपकरणों की आवश्यकता है, उन्हें समय से बताएं ताकि उनको उपलब्ध करवाया जा सके।

लोकसभा अध्यक्ष बिरला ने बैठक से ही एम्स के निदेशक डा. रणदीप गुलेरिया से फोन पर बात कर ओमिक्राॅन के संबंध में अब तक हुई स्टडी की जानकारी मेडिकल काॅलेज के चिकित्सकों को उपलब्ध करवाई। उन्होंने चिकित्सकों से कहा कि इस बारे में उन्हें जब भी किसी विशेषज्ञ से बात करने की जरूरत महसूस हो वे बता दें।

आप नैनो मशीन खरीदें, भुगतान मेरी जिम्मेदारी
बैठक में ओमिक्राॅन वायरस की अप्रत्यक्ष पहचान से संबंधी एक नैनो मशीन की आवश्यकता होने की जानकारी मिलने पर स्पीकर बिरला ने कहा कि मेडिकल काॅलेज मशीन खरीदने की प्रक्रिया शुरू करे, उसका भुगतान करवाना मेरी जिम्मेदारी रहेगी। इसके अतिरिक्त उन्होंने आईसीएमआर से डबल आरटीपीसीआर किट भी उपलब्ध करवाने के लिए आश्वस्त किया। यह भी ओमिक्राॅन की अप्रत्यक्ष पहचान करने में सहायक है।

माॅडल बने कोटा का मेडिकल काॅलेज
स्पीकर बिरला ने जिला कलक्टर और मेडिकल काॅलेज के प्राचार्य से कहा कि मेडिकल काॅलेज परिसर को वल्र्ड क्लास बनाने की कार्ययोजना तैयार की जाए। मेडिकल काॅलेज में चिकित्सा सेवाओं का विस्तार हो। बाहरी परिसर भी हराभरा, सुंदर और आकर्षक हो, इसकी प्लानिंग की जाए। ग्रामीण क्षेत्रों में सीएचसी में भी सुविधाएं सुधारने के लिए योजना बनाएं। उन्होंने मेडिकल काॅलेज में उपलब्ध किडनी ट्रांसप्लांट सुविधा, जोइंट रिप्लेसमेंट सुविधा, ब्लड बैंक सुविधा की भी समीक्षा की।

2025 तक हो टीबी का उन्मूलन
लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने मेडिकल काॅलेज प्रशासन को 2025 तक टीबी उन्मूलन के लक्ष्यों को हासिल करने के लिए भी सक्रियता से कार्य करने के भी निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि कोटा संभाग में बड़ी मात्रा में खदानें हैं जहां काफी श्रमिक कार्य करते हैं। इनमें से काफी लोग टीबी से पीड़ित हैं। हमें उनको स्वस्थ करने की दिशा में लक्ष्य बनाकर काम करना होगा।

डायबिटिक बच्चों के लिए मेडिकल काॅलेज में प्रारंभ होगी क्लिनिक
कोटा, 28 दिसंबर। टाइप-1 डायबिटिज से पीड़ित बच्चों के लिए न्यू मेडिकल काॅलेज में डायबिटिक क्लिनिक प्रारंभ होगी। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने मंगलवार को आयोजित समीक्षा बैठक में इसके लिए निर्देश दिए।
लोकसभा कैंप कार्यालय में मंगलवार सुबह जनसुनवाई के दौरान आरएसएसडीआई के अध्यक्ष डा. केके पारीक तथा सचिव डा. जीडी रामचंदानी के साथ बड़ी संख्या में टाइप-1 डायबिटिज से पीड़ित छोटे बच्चे और उनके अभिभावक स्पीकर बिरला से मिले।
डा. पारीक और डा. रामचंदानी ने स्पीकर बिरला को बताया कि कोटा में करीब 1000 पंजीकृत बच्चे हैं जो टाइप-1 डायबिटिज से पीड़ित हैं। इनमें से कई की उम्र 1 वर्ष से 5 वर्ष के बीच है। इस समस्या का कोई इलाज नहीं है तथा इन सभी बच्चों को जिंदगी भर दिन में तीन से चार बार इंसुलिन लेनी होगी।
इन बच्चों में शुगर का लेवल कई बार ज्यादा तो कई बार कम हो जाता है। इसे नापने के लिए ग्लूकोमीटर और स्ट्रिप्स की आवश्यकता होती है। इंजेक्शन से इंसुलिन लेना काफी पीड़ादायक होती है। इसके विकल्प में रूप में एक विशेष पैन आता है जो काफी महंगा है। इंसुलिन तथा उपचार से जुड़ी अन्य चीजों पर टैक्स भी काफी अधिक है। उन्होंने आग्रह किया कि यदि कोटा मेडिकल काॅलेज में इन बच्चों के लिए क्लिनिक प्रारंभ हो जाए तो काफी राहत मिलेगी।
स्पीकर बिरला ने मंगलवार को ही मेडिकल काॅलेज में आयोजित समीक्षा बैठक में इन बच्चों की परेशानियों का जिक्र करते हुए डायबिटिक क्लिनिक प्रारंभ करने को कहा। मेडिकल काॅलेज के प्राचार्य डा. विजय सरदाना ने आश्वस्त किया कि जल्द ही क्लिनिक प्रारंभ कर दी जाएगी जहां बच्चों को इंसुलिन और अन्य सुविधाएं उपलब्ध होंगी।

खिलाड़ियों का किया सम्मान
बिरला ने राष्ट्रीय व राज्य स्तरीय प्रतियोगिताओं में सफलता अर्जित करने वाली कोटा की प्रतिभाओं का सम्मान किया। उत्तरप्रदेश में रेसलिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया द्वारा आय़ोजित फ्री स्टाइल के 57 किलो वर्ग में कोटा के पहलवान शुभम सेन ने रजत पदक अपने नाम किया। वहीं जयपुर में आयोजित राजा सूरजमल चैम्पियनशिप ट्रॉफी में छावनी स्थित श्री हरदोल मलखम्ब एकेडमी व व्यामाशाला के खिलाड़ियों ने उत्कृष्ठ प्रदर्शन करते हुए 1 गोल्ड, 1 सिल्वर, 16 ब्रॉन्ज समेत कुल 18 मेडल अर्जित कर प्रतियोगिता में कोटा का दबदबा बरकरार रखा। मंगलवार को श्री हरदोल मलखम्ब एकेडमी की अध्यक्ष पूर्व उपमहापौर सुनीता व्यास, कोच गोपाल सिसोदिया के नेतृत्व में खिलाड़ियों ने लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला से भेंट की। इस दौरान कुश्ती कोच रविंद्र पहलवान, व्यायाम शाला के प्रशिक्षक रमेशचंद कसोलीया, महामंत्री भूपेंद्र भाया, लोकेश गुर्जर आदि मौजूद रहे।

श्रीमद्भागवत कथा का किया श्रवण
लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला गौतम समाज दादाबाड़ी के अध्यक्ष जगमोहन गौतम द्वारा गौतम वाटिका में आयोजित की जा रही श्रीमद्भागवत कथा में भी सम्मिलित हुए। इस दौरान उन्होंने गोवर्धन जी की पूजा कर आरती की। बिरला ने कथा में गोवर्धन पूजा के महत्व से जुड़े प्रसंगों का श्रवण भी किया। कथावाचक भुवनेश शर्मा श्याम जी ने कृष्ण भगवान की बाल लीला से जुड़े रोचक प्रसंग सुनाए। इस दौरान धीरेंद्र शर्मा, नंदकिशोर शर्मा, विशाल शर्मा, पदम गौतम, राजेंद्र मोहन गौतम, भाजयुमो जिलाध्यक्ष सुदर्शन गौतम आदि मौजूद रहे।

स्पीकर बिरला का अभिनंदन कल
कोटा। कोटा-बूंदी क्षेत्र के नवनिर्वाचित पंचायतराज प्रतिनिधि बुधवार को लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला का अभिनंदन करेंगे। पूर्व विधायक हीरालाल नागर ने बताया कि धरणीधर गार्डन में सुबह 11.00 बजे आयोजित कार्यक्रम में जिला प्रमुख, उप जिला प्रमुख, प्रधान, उप प्रधान, सरपंच, पंच तथा सभी पंचायत राज प्रतिनिधि भाग लेंगे। बिरला के मार्गदर्शन से कोटा-बूंदी के पंचायतराज प्रतिनिधियों को भी नई प्रेरणा मिलेगी।

Leave a Reply