टीम इंडिया के युवा खिलाड़ी टी20 वर्ल्ड कप टीम में जगह बनाने के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने को बेताब हैं. श्रीलंका के खिलाफ सीमित ओवरों के 6 मैचों की सीरीज रोमांचक होने की संभावना है, जिसकी शुरुआत रविवार को पहले वनडे मैच से होगी. कोलंबो में यह मैच भारतीय समयानुसार दोपहर बाद 3.00 बजे से खेला जाएगा. मैच का सीधा प्रसारण Sony sport पर किया जाएगा.

श्रीलंकाई टीम में कोविड-19 के कुछ मामले आने के बाद यह सीरीज पांच दिन देर से शुरू हो रही है. सीरीज में 3 वनडे और इतने ही टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले जाएंगे. दासुन शनाका पिछले चार वर्षों में टीम में 10वें कप्तान होंगे तथा धनंजय डिसिल्वा और तेज गेंदबाज दुष्मंथा चमीरा को छोड़कर कोई भी ऐसा खिलाड़ी नजर नहीं आता है जो शिखर धवन की अगुआई वाली भारतीय टीम को कड़ी चुनौती दे सके.

श्रीलंकाई टीम में नहीं हैं कुसल परेरा

ब्रिटेन दौरे में जैव सुरक्षित वातावरण (बायो-बबल) का

उल्लंघन के कारण कुसल मेंडिस और निरोशन

डिकवेला के निलंबन और पूर्व कप्तान कुसल परेरा के

चोटिल होने से श्रीलंकाई टीम कमजोर पड़ गई है.

इंग्लैंड के खराब दौरे के बाद यदि उसकी टीम जीत दर्ज

करती है तो यह उसके लिए बड़ी उपलब्धि होगी.

भारतीय टीम में पृथ्वी शॉव, धवन, हार्दिक पंड्या और भुवनेश्वर कुमार की ही अंतिम एकादश में जगह पक्की लग रही है. अन्य स्थानों के लिए हालांकि एक से अधिक दावेदार हैं. नंबर तीन के लिए देवदत्त पडिक्कल और ऋतुराज गायकवाड़ दावेदार हैं. यह देखना होगा कि क्या सूर्यकुमार यादव की शॉट जमाने की काबिलियत पर भरोसा दिखाया जाता है कि मनीष पांडे को निरंतरता दिखाने के लिए मौका दिया जाता है.

भारतीय टीम में हैं कई विकल्प

ऑफ स्पिन विभाग में कृष्णप्पा गौतम हैं और देखना होगा कि क्या उन्हें बाएं हाथ के स्पिनर क्रुणाल पंड्या पर प्राथमिकता मिलती है. राहुल चाहर और युजवेंद्र चहल के बीच भी लेग स्पिनर के स्थान के लिए मुकाबला है. बाएं हाथ के कलाई के स्पिनर कुलदीप यादव भी मौके की तलाश में हैं. विकेटकीपर के लिए भी ईशान किशन और संजू सैमसन दावेदार हैं.

विराट कोहली की अगुआई में टीम इंग्लैंड में अपने टेस्ट रिकॉर्ड में सुधार करने को प्रतिबद्ध है तो धवन की कप्तानी और राहुल द्रविड़ की कोचिंग वाली टीम सीनियर टीम के लिए विकल्प तैयार करना चाहती है. भारतीय खिलाड़ियों में से अधिकतर टी20 में नियमित तौर पर खेलते रहे हैं. साल के आखिर में टी20 विश्व कप होना है और ऐसे में प्रत्येक खिलाड़ी अपना दावा मजबूत करने की कोशिश करेगा.

Leave a Reply