बारां जिले के बापचा थाना क्षेत्र के कडैयाहाट गांव में 10 जून को 40 वर्षीय विधवा महिला की हत्या का पुलिस ने खुलासा किया है। पुलिस ने 35 दिन बाद आरोपी प्रेमी को पकड़ा है। ब्लाइंड मर्डर की गुत्थी सुलझाने के लिए पुलिस ने 16 लोगों के DNA सैंपल की जांच कराई थी। रिपोर्ट आने के बाद गुरुवार को पुलिस ने आरोपी भरत कुमार ( 35 ) को गिरफ्तार किया है। जांच में सामने आया है कि कई साल से महिला व भरत के बीच प्रेम संबंध है। भरत कुमार को शक था कि महिला किसी अन्य व्यक्ति से संपर्क में है। ये बात भरत को नागवार गुजरी और उसने महिला को मौत के घाट उतार दिया। आरोपी ने पत्थर या हथौड़े से महिला के चेहरे पर कई वार किए।

महिला की मौत पर पुलिस मौके पर पहुंची तो महिला के कपड़े फटे हुए थे। कपड़ों पर सीमन लगा हुआ था । पुलिस को अंदेशा हुआ कि वारदात के पहले महिला के साथ संबंध बनाए गए हैं। FSL की टीम ने सैंपल लिए। पुलिस ने महिला की कॉल डिटेल खंगाली, साथ ही गांव के लोगों से पूछताछ की। महिला के संपर्क में आने वाले व डॉग स्क्वाड के सुंघाने पर 16 संदिग्ध लोगों के ब्लड सैंपल लिए महिला के कपड़े से सीमन कीपुष्टि हुई। फिर FSL की रिपार्ट में आरोपी का सैंपल मैच हुआ। इसी के आधार पर पुलिस आरोपी तक पहुंची। फिलहाल पुलिस आरोपी से पूछताछ में जुटी है।

अकेली रहती थी महिला

महिला घर में अकेली रहती थी उसके पति की 3 साल पहले सड़क दुर्घटना में मौत हो गई थी। उसके 4 बच्चे अलग घर में रहते थे। आरोपी भरत मृतका के गांव का ही रहने वाला है। पति की मौत के बाद मदद के बहाने महिला के सम्पर्क में आया। महिला छोटे मोटे काम बताती थी। मेल मुलाकात का दौर आगे बढ़ा। दोनों में फोन पर बातचीत होने लगी। इस दौरान संबंध बने । भरत को शक था कि महिला अन्य लोगों से भी बात करती है । यही बात उसको नागवार गुजरी।

10 जून को विधवा महिला का 1 दिन पुराना शव घर की छत पर लहूलुहान हालत में मिला था। सूचना पर पुलिस अधिकारियों ने घटनास्थल का मौका मुआयना किया। एफएसएल की टीम व डॉग स्क्वायड ने मौके से साक्ष्य जुटाए थे। जिसमें शक की सुई संदिग्ध पर टिकी थी।

Leave a Reply