मोदी सरकार एक बार फिर सस्ता सोना बेचने जा रही है। आज से 16 जुलाई, 2021 तक आपके पास सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड में निवेश करने का सुनहरा मौका है। सोना आपको फिजिकल रूप नहीं बल्कि बॉन्ड के रूप में मिलेगा। वित्त वर्ष 2021-22 के लिए सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड की बिक्री सोमवार से शुरू हो रही है। भारतीय रिजर्व बैंक ने बताया है कि यह स्कीम आज से यानी 12 जुलाई, 2021 से शुरू होकर 16 जुलाई, 2021 तक निवेश के लिए खुली रहेगी।

गोल्ड बॉन्ड स्कीम 2021-22 के लिए इशू प्राइस 4,807 रुपये प्रति ग्राम रखा गया है। आरबीआई के अनुसार, ‘गोल्ड बॉन्ड का मूल्य 4,807 रुपये प्रति ग्राम तय किया गया है.’ यानी कि अगर आपने 10 ग्राम सोना खरीदा तो आप 48,070 रुपये में खरीद पाएंगे, लेकिन अगर आपने डिजिटल पेमेंट किया तो आपको 50 रुपये प्रति ग्राम की छूट मिलेगी। केंद्रीय बैंक ने बताया है कि भारत सरकार के परामर्श से वो ऑनलाइन आवेदन और डिजिटल तरीके से भुगतान करने वाले निवशकों को 50 रुपये प्रति ग्राम की छूट देगा।

आरबीआई के अनुसार, ‘ऐसे निवेशकों के लिए निर्गम मूल्य 4,757 रुपये प्रति ग्राम सोना होगा.’ यानी कि ऐसे निवेशक अगर 10 ग्राम सोना खरीदते हैं, तो उन्हें 500 रुपये की छूट मिलेगी और वो सोना 47,570 रुपये के रेट पर खरीद पाएंगे।

गोल्ड बॉन्ड ही क्यों खरीदें

गोल्ड बॉन्ड से निवेशक को कई फायदे होते हैं, पहला कि वो बाजार के मुकाबले सस्ता सोना खरीदता है। दूसरा सोने के दाम बाजार में बढ़ते हैं तो उसके निवेश की कीमत भी बढ़ जाती है और सबसे बड़ी बात उसे उसके निवेश पर हर 6 महीने में ब्याज मिलता है। गोल्ड बॉन्ड पर निवेशकों को सालाना 2.5 फीसदी की दर से ब्याज मिलता है।

Leave a Reply