आजकल बिना आधार कार्ड (Aadhaar Card) के किस भी काम हो करना लगभग नमुमकिन हो गया है। बच्चे का एडमिशन कराने के लेकर बैंक अकाउंट खुलवाने का तक के लिए आधार जरूरी हो गया है। यही कारण है की आधार में मौजूद सभी जानकारियां सही और अपडेटेड होनी जरूरी है। क्या हो अगर सभी जानकारी ठीक हो लेकिन आधार नंबर ही गलत हो.. दरअसल आजकल कई ऐसे मामले सामने आ रहे हैं जहां लोग फर्जी आधार कार्ड बनाकर दे रहे हैं और बाद में मालूम चल रहा है की इस कार्ड में मौजदू आधार नंबर गलत है। इसी को देखते हुए UIDAI ने लोगों के लिए चेतावनी जारी की है। आइए आपको बताते हैं कि क्या है पूरा मामला और कैसे बच सकते हैं आप इस फ्रॉड से: 

सभी 12 डिजिट नंबर को आधार नहीं माना जाए
भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) ने गुरुवार को चेतावनी दी कि सभी 12 डिजिट नंबर को आधार नहीं माना जाए। UIDAI के मुताबिक Aadhaar को ID Proof के तौर पर लेते वक्‍त उसका वेरिफिकेशन जरूरी है।

UIDAI ट्वीट कर दिया अलर्ट
UIDAI ने ट्विटर पर ट्वीट पर ये अलर्ट जारी किया है। इस ट्वीट में यूआईडीएआई लिखा है कि सभी 12 डिजिटल नंबर आधार नहीं होते हैं। इसी वजह से UIDAI ने सुझाव दिया है कि आधार को पहचान पत्र के रूप में स्वीकार करने से पहले उसे वेरिफाई कर लेना चाहिए। ऐसे में अगर आप कोई ऐसा काम करते हैं जिसमें आपको किसी के आधार की जरूरत पड़ी है तो ये जरूर चेक कर लें कि उसने जो आधार नंबर दिया है वो सही है या नहीं। आधार नंबर को वेरिफाई करने के लिए UIDAI ने खुद तरीका भी बताया है

ऐसे चेक करें दिया गया Aadhaar नंबर सही है नहीं
>> इसके लिए सीधे UIDAI द्वारा दिया गया लिंक resident.uidai.gov.in/verify पर जाएं।

>> यहां पर अब आपको आधार कार्ड में दर्ज 12 अकों को दर्ज करना होगा। Captcha भरने के बाद Verify के बटन पर क्लिक करें।

>> ऐसा करते ही आपको पता चल जाएगा कि दिया गया आधार नंबर सही या नहीं. सही होने पर 12 अंकों के आधार नंबर की संख्या की प्रामाणिकता आपको स्क्रीन पर दिखाई देने लगेगी।

Leave a Reply