डेस्क। हिंदू धर्म में विवाह दो आत्माओं के मिलन का उत्सव माना गया है। भारतीय संस्कृति में विवाह परंपरा को सम्मान की दृष्टि से देखा जाता है। लेकिन विवाह के बाद पहली रात यानी सुहागरात के पीछे कई रीति-रिवाज हैं। इनमे से एक हैं कि दूल्हा दुल्हन के बिस्तर को फूलों से क्यों सजाया जाता है।

विवाह के बाद, सुहागरात को नव वर-वधू के कमरे को फूलों से सजाया जाता है। यह एक पुरानी परंपरा है। मान्यता है कि इस दिन से लोग अपनी नई जिंदगी की शुरुआत करते हैं। इसलिए दूल्हा दुल्हन के बैडरूम का माहौल रोमांटिक बनाया जाता है। फूलों के साथ परफ्यूम जैसी चीज़ों को भी लगाया जाता है ताकि कमरे में और भी ज्यादा रोमांटिक माहौल बन जाये।

इसके अलावा फूलों के साथ ही सुगंधित मिठाई भी कमरे में रखने का रिवाज है। इस दिन पूरे कमरे में सुगंधित फूल रजनीगंधा, गुलाब, चमेली जैसे फूलों से सजाया जाता है, या फिर कामेच्छा बढ़ाने वाले मादक फूलों का इस्तेमाल किया जाता है।

Leave a Reply