शनिवार का दिन भगवान हनुमान के साथ शनि देवता को भी समर्पित है। शनि ग्रह को मजबूत करने के लिए लोग इस दिन कई उपाय करते हैं। ज्योतिष अनुसार शनि को क्रूर ग्रह माना जाता है। शनि सूर्य पुत्र हैं और कर्म फलदाता भी हैं। जिन लोगों पर शनि की साढ़े साती (Shani Sade Sati) या शनि ढैय्या (Shani Dhaiya) चल रही होती है उन्हें इस दौरान कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है। जानिए शनि ग्रह को मजबूत करने के लिए शनिवार के दिन क्या करें और क्या न करें?

शनिवार के दिन क्या न करें?
-इस दिन मांस मदिरा का सेवन बिल्कुल भी न करें। ऐसा करने से कष्ट बढ़ते हैं।
-शनिवार के दिन कोयला, नमक, चमड़ा, जूते, काले तिल, काली उड़द दाल, झाड़ू, तेल, लकड़ी, लोहा या लोहे की वस्तु नहीं खरीदनी चाहिए। अन्यथा जीवन में बाधाएं उत्पन्न होना लगती हैं।
-शनिवार के दिन पूर्व, उत्तर और ईशान दिशा की यात्रा करने से बचना चाहिए।
-पुरुषों को अपने ससुराल नहीं जाना चाहिए।
-इस दिन भूलकर भी किसी कमजोर या मजबूर व्यक्ति का अपमान नहीं करना चाहिए। वैसे ऐसा तो किसी भी दिन नहीं करना चाहिए।
-इस दिन बाल काटना और नाखून काटना भी वर्जित माना गया है।
-दूध और दही का सेवन करने से बचना चाहिए। अगर दूध-दही पीना जरूरी है तो उसमें थोड़ी सी हल्दी या गुड़ मिला लें।
-शनिवार के दिन बैंगन, आम का आचार और लालमिर्च खाने से भी बचना चाहिए।

Leave a Reply