उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में जहरीली शराब का कहर शनिवार को भी जारी रहा। दूसरे दिन 19 लोगों ने अस्पतालों और गांवों में दम तोड़ दिया। इसके साथ ही अब तक 51 लोगों की मौत हो चुकी है, हालांकि प्रशासन ने केवल 25 मौत की पुष्टि की है। फरार चल रहे 50-50 हजार के इनामी शराब ठेकेदारों का अभी कोई सुराग नहीं लगा है। वहीं, एसएसपी ने एसओ लोधा अभय कुमार शर्मा को निलंबित कर दिया। मुख्य आरोपी की पत्नी समेत छह अभियुक्तों को गिरफ्तार किया है।

शुक्रवार को सुबह से लेकर रात तक गांव-देहात और अस्पतालों के चक्कर लगाने वाले अफसरों को शनिवार को भी दिन निकलते ही बुरी खबरों ने चौंकाना और घेरना प्रांरभ कर दिया। सुबह पिसावा थानाक्षेत्र के गांव शादीपुर में पांच मौत से अफसरों में हड़कंप मच गया। तहसीलदार संतोष कुमार ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। ग्रामीणों का आरोप था कि सभी मौत जहरीली शराब से हुई हैं। इसके बाद जट्टारी का गांव मादक और लोधा के करसुआ में मौतों की सूचना मिली। गांव करसुआ में गैस बॉटलिंग प्लांट के बाहर कैप्सूल ट्रक में भी शव मिला। अलग-अलग गांवों में मौत का क्रम जारी रहा। मेडिकल कॉलेज में दो दिन में शराब से 25 लोगों की मौत दर्ज की गई है।

Leave a Reply