आज पूर्णिमा पर साल का पहला चंद्र ग्रहण लग रहा है। भारत में दिखाई न देने के कारण इसका सूतक काल मान्य नहीं होगा और भारत में इसका कोई धार्मिक महत्व माना जाएगा। इसके बाद अब से 15 दिन बाद ज्येष्ठ अमावस्या 10 जून को साल का पहला सूर्य ग्रहण होगा। यह ग्रहण भी आपको भारत में दिखाई नहीं देगा।

इसलिए इसका भी कोई धार्मिक महत्व नहीं माना जाएगा। ग्रहण त्तर-पूर्व अमेरिका, यूरोप, उत्तरी एशिया और उत्तरी अटलांटिक महासागर में ये ग्रहण देखा जा सकेगा। यह ग्रहण कुल 5 घंटे का होगा और भारत के समय के अनुसार दोपहर  1:42 पर शुरू होकर शाम 6:41 पर समाप्त होगा। भारत में नहीं दिके के कारण इसका भी सूतक अमान्य होगा और मंदिरों में धार्मिक कार्यों के करने पर कोई रोक नहीं रहेगी। 

पिछले साल की बात करें तो पिछले साल भी एक महीने में दो ग्रहण पड़े थे। हालांकि एक भारत में दिखाई दिया था और दूसरा भारत में दिखाई नहीं दिया था।

Leave a Reply