फेसबुक फ्रेंड द्वारा दिल्ली की युवती को होडल बुलाकर उसका अपहरण कर गैंगरेप किए जाने के मामले में पलवल जिले की हसनपुर थाना पुलिस ने कुछ घंटों बाद ही फरार मुख्य आरोपी को धर दबोचा। गिरफ्तार अभियुक्त सागर को पुलिस ने शुक्रवार को अदालत में पेश किया, जहां से उसे दो दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया गया है।

गैंगरेप की शिकार हुई दिल्ली की रहने वाली एक युवती ने पुलिस को दी गई शिकायत में बताया कि था उसके दोस्त रामगढ़ निवासी सागर की उससे फेसबुक पर दोस्ती हुई थी। इसके बाद सागर ने उससे शादी करने का झांसा देकर अपने परिजनों से मिलाने के बहाने से उसे होडल बुलाया था।

होडल पहुंचने पर सागर ने उसका अपहरण कर लिया तथा उसे अपने घर ले जाने की बजाय गांव के जंगल में बने ट्यूबवेल पर ले गया। आरोप है कि वहां सागर के अलावा उसका भाई समुंद्र व उसके अन्य दोस्त भी वहां पहुंच गए। जहां उन सभी ने मिलकर पूरी रात उसके साथ रातभर गैंगरेप किया। इसके बाद सुबह होने पर उसे गांव के निकट आकाश कबाड़ी के वहां ले गए, जहां पर आकाश और उसके दोस्तों ने भी उसके साथ गैंगरेप किया। जब वह चलने की स्थिति में नहीं रही तो सागर और उसके तीन दोस्त गाड़ी में उसे बदरपुर बॉर्डर पर छोड़कर फरार हो गए थे।

पीड़ित युवती की ओर से 12 मई को इसकी शिकायत हसनपुर थाना पुलिस को दी गई। हसनपुर पुलिस ने युवती की शिकायत पर कार्रवाई करते हुए 12 मई की देर रात सागर, समुंद्र व आकाश सहित 22 अन्य युवकों के खिलाफ अपहरण और गैंगरेप सहित विभिन्न धाराओं में केस दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है।

Leave a Reply