साल 2018 में जब भारत की टीम ने इंग्लैंड का दौरा किया था, तो टीम को पांच मैचों की टेस्ट सीरीज में 4-1 से करारी शिकस्त झेलनी पड़ी थी। कप्तान विराट कोहली का बल्ला दौरे पर जब बोला था और उन्होंने 5 मुकाबलों में 59.30 की औसत से 593 रन जड़े थे। हालांकि, इसके बावजूद वह इंग्लैंड में टीम इंडिया के इतिहास को नहीं बदल सके थे। वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल खेलने के बाद टीम इंडिया को 4 अगस्त से इंग्लैंड के खिलाफ उसकी धरती पर एकबार फिर पांच मैचों की टेस्ट सीरीज खेलनी है। इस बार भारतीय टीम ज्यादा दमदार और मजबूत नजर आ रही है। यही मानना है भारत के पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ का, जिनके अनुसार भारत टेस्ट सीरीज को इस बार 3-2 से अपने नाम करने में सफल रहेगा। 

ईएसपीयन क्रिकइंफो के अनुसार द्रविड़ ने एक वेबीनार के दौरान कहा, ”मुझे वास्तव में लगता है कि इस समय भारत के पास सर्वश्रेष्ठ मौका है। उनकी (इंग्लैंड) गेंदबाजी को लेकर कोई सवाल ही पैदा नहीं होता। इंग्लैंड जैसा भी गेंदबाजी आक्रमण विशेषकर तेज गेंदबाजी अटैक को उतारेगा वह शानदार होगा। उनके पास कई विकल्प हैं। लेकिन यदि आप उनके टॉप छह या सात बल्लेबाजों पर गौर करो तो आप वास्तव में एक विश्वस्तरीय बल्लेबाज के बारे में सोचोगे और वह जो रूट हैं।’ द्रविड़ का मानना है कि आस्ट्रेलिया में ऐतिहासिक जीत दर्ज करने वाली भारतीय टीम के पास यह अच्छा मौका होगा।

Leave a Reply