कोटा 9 मई । शहर में कोरोना महामारी पर लगाम कसने के प्रयास में राज्य सरकार द्वारा 10 से 24 मई तक सख्ती के साथ लॉक डाउन लगाया जा रहा है। इस दौरान सरकार ने इंदिरा रसोई योजना के माध्यम से सभी जरुरतमंद लोगों को भोजन उपलब्ध कराने का निश्चय किया है।

सरकार एवं जिला प्रशासन के आग्रह पर इस पुण्य कार्य में श्री सर्राफा बोर्ड ने ‘शहर में कोई भूखा ना सोए’ का संकल्प लेकर एक छोटा सा प्रयास शुरू किया है।
संस्था के अध्यक्ष सुरेन्द्र गोयल विचित्र और सचिव विवेक कुमार जैन ने बताया कि सभी दानदाताओं के सहयोग से इस अवधि में जरुरतमंद लोगों को यथासंभव भोजन की व्यवस्था की जाएगी।

संस्था की ओर से इस सेवा प्रकल्प के संयोजक आनंद राठी ने बताया कि जल्द ही प्रशासन द्वारा उपलब्ध सौ गाड़ियों द्वारा पचास हजार लोगों को भोजन कराने का संकल्प लिया है।
उन्होंने कहा कि एक गाड़ी में पांच सौ लोगों के लिए भोजन उपलब्ध होगा। सहयोग मिलने पर और अधिक लोगों को भोजन कराने के प्रयास जारी रहेंगे।

Leave a Reply