बारां, 9 मई। खान व गोपालन मंत्री प्रमोद जैन भाया ने कहा कि कोरोना महामारी की दूसरी लहर ने काफी कहर बरपाया है और कई लोग संक्रमित होकर ऑक्सीजन सपोर्ट पर हैं जिनके जीवन का रक्षण करते हुए पूर्ण चिकित्सा एवं स्वास्थ्य लाभ सुनिश्चित किया जाएगा।
खान व गोपालन मंत्री भाया रविवार को सर्किट हाउस बारां में कोविड-19 के तहत समीक्षा बैठक को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के संक्रमण से आमजन के जीवन की सुरक्षा के लिए चिकित्सा एवं स्वास्थ्य उपकरणों, ऑक्सीजन सिलंेडर, दवाईयां सहित आवश्यक संसाधनों को उपलब्ध कराने के लिए संवेदनशीलता के साथ कार्य किया जा रहा है साथ ही जो परेशानियां आ रही है उनका भी निस्तारण आपसी समन्वय से किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि वे स्वयं और विधायक पानाचंद मेघवाल एवं निर्मला सहरिया कोरोना महामारी से आमजन के जीवन की सुरक्षा के लिए प्रतिबद्ध होकर नियमित कार्यरत हैं जिसके सकारात्मक परिणाम भी प्राप्त हुए हैं।

खान व गोपालन मंत्री प्रमोद जैन भाया सर्किट हाउस बारां में कोविड-19 के तहत समीक्षा बैठक लेते हुए।

100 आईसोलेशन बेड बढ़ाने के निर्देश
खान व गोपालन मंत्री ने राजकीय अस्पताल बारां में कोरोना आईसोलेशन बेड्स पर अधिक भार होने के कारण आईसोलेशन वार्ड का विस्तार करने के निर्देश देते हुए अदानी ब्लॉक के ओपीडी में दोनों और निर्मित हॉल में लगभग 50 बेड लगाकर रोगियों को भर्ती करने की सुविधा का विस्तार करने एवं पूर्व में रोगी सेवा केन्द्र भवन जिसमें कोरोना ओपीडी का संचालन किया जा रहा है को रिक्त रैनबसेरे में शिफ्ट कर रोगी सेवा केन्द्र के दोनों बड़े हॉल में लगभग 50 बेड का कोविड आईसोलेशन वार्ड बनाने के निर्देश दिए । इस प्रकार राजकीय अस्पताल में लगभग 100 कोविड आईसोलेशन बेड का विस्तार सोमवार सांयकाल तक सुनिश्चित करने हेतु निर्देशित किया। खान व गोपालन मंत्री ने नए आईसोलेशन वार्ड के लिए चिकित्सक, नर्सिंग स्टाफ, चतुर्थश्रेणी कर्मचारियों को तत्काल अनुबंध पर रखने के निर्देश दिए जिससे वार्ड संचालन में कोई असुविधा न हो।

धर्मादा संस्था ने स्वास्थ्य सहयोग की दी सहमति –
खान व गोपालन मंत्री भाया ने कोरोना महामारी के तहत आगामी व्यवस्थाओं के संबंध में धर्मादा संस्था के प्रतिनिधियों से चर्चा की इस पर धर्मादा संस्था के अध्यक्ष विमल बंसल ने बताया कि वे इस महामारी को समाप्त करने के लिए कोविड रोगियों के लिए आगामी स्वास्थ्य सेवाओं के विस्तार के तहत संस्था धर्मादा परिसर में 100 बेड का विस्तार करने के लिए सहमत है जिसके लिए समस्त आवश्यक सहयोग किया जाएगा। साथ ही उन्होंने बताया कि धर्मादा संस्था में 12 ऑक्सीजन कंसंटेªटर मंगवाए हैं जिनकी डिलीवरी 13 मई को प्राप्त हो जाएगी जिससे कोविड रोगियों को ऑक्सीजन सहायता उपलब्ध कराई जा सकेगी।

ऑक्सीजन प्लांट शीघ्र स्थापित होगा –
खान व गोपालन मंत्री ने बताया कि राजकीय अस्पताल बारां की ऑक्सीजन की आवश्यकताओं में विस्तार करते हुए अदानी पावर प्लांट द्वारा 200 ऑक्सीजन सिलेंडर की क्षमता का प्लांट शीघ्र स्थापित किया जाएगा। इसी क्रम में कोविड संक्रमण के रोगियों के लिए राजकीय अस्पताल को 15 ऑक्सीजन कंसंटेªटर प्राप्त हो गए है साथ ही 15 मई तक 50 ऑक्सीजन कंसंटेªटर की डिलीवरी भी प्राप्त हो जाएगी। धर्मादा संस्था के 12 ऑक्सीजन कंसंटेªटर 13 मई को मिल जाएंगे। इस प्रकार ऑक्सीजन कंसंटेªटर प्राप्त होने पर ऑक्सीजन का भार कम होगा और रोगियों को ऑक्सीजन आसानी से सुलभ हो जाएगी। उन्होंने ऑक्सीजन व्यवस्था को प्रभावी नियंत्रण एवं मॉनिटरिंग को आवश्यक बताया जिससे रोगियों को ऑक्सीजन की आवश्यकता होने पर ऑक्सीजन प्रदान की जा सके। इसी क्रम में जिन रोगियों को ऑक्सीजन की आवश्यकता नहीं है उनको नॉन ऑक्सीजन बेड पर शिफ्ट कर आवश्यकता वाले रोगियों को ऑक्सीजन की उपलब्धता चिकित्सकीय परामर्श के अनुसार सुनिश्चित की जानी चाहिए।
खान व गोपालन मंत्री ने अस्पताल के वेंटिलेटर का एनेस्थेटिक चिकित्सक की कमी होने के कारण प्रभावी संचालन नहीं होने के संबंध में एनेस्थेटिक चिकित्सकों का पदस्थापन होने तक जिले में कार्यरत एनेस्थेटिक चिकित्सकों से ही सेवाएं प्राप्त कर प्रभावी रूप से आईसीयू संचालन संबंधी निर्देश भी प्रदान किए।

आवश्यक दवाओं पर प्रभावी नियंत्रण रखें –
खान व गोपालन मंत्री भाया ने कहा कि रेमडेसिविर इंजेक्शन एवं अन्य आवश्यक दवाओं पर प्रभावी नियंत्रण रखा जाना चाहिए एवं चिकित्सक की राय के अनुसार जिन रोगियों को रेमडेसिविर की वास्तविक आवश्यकता है उनको प्राथमिकता से उपलब्ध कराना चाहिए साथ ही इसकी पूर्ण मॉनिटरिंग भी की जानी चाहिए। सीएमएचओ डॉ. संपतराज नागर ने बताया कि जिले को पहले औसतन 20 रेमडेसिविर इंजेक्शन प्रतिदिन प्राप्त हो रहे थे लेकिन अब प्रतिदिन 60 रेमडेसिविर इंजेक्शन प्राप्त हो रहे हैं जिससे व्यवस्था सुचारू हुई है।

प्लाज्मा थैरेपी की सुचारू व्यवस्था रखें –
खान व गोपालन मंत्री प्रमोद जैन भाया ने चिकित्सा अधिकारियों को निर्देश दिए कि राजकीय अस्पातल बारां में भर्ती गंभीर कोरोना रोगियों को आवश्यकता के अनुसार प्लाज्मा थैरेपी की सुविधा भी उपलब्ध कराना सुनिश्चित किया जाना चाहिए।

रोगियों के परिजनों को निशुल्क भोजन –
खान व गोपालन मंत्री ने बताया कि सामाजिक सरोकार के तहत पार्श्वनाथ चेरिटेबल ट्रस्ट द्वारा रोगियों के परिजनों को राजकीय चिकित्सालय में संचालित इंदिरा रसोई के माध्यम से निशुल्क भोजन उपलब्ध करवाया जा रहा है। इसी क्रम में कोविड रोगियों के लिए भी राज्य सरकार के द्वारा इंदिरा रसोई के माध्यम से भोजन की व्यवस्था की गई है जिसके संबंध में आमजन को जानकारी दी जानी चाहिए।
पार्श्वनाथ चेरिटेबल ट्रस्ट द्वारा गंभीर रोगियों के बारां से कोटा रैफर होने पर निशुल्क एम्बूलेंस एवं अस्पताल में मृत रोगी के शव को गन्तव्य स्थल पर निशुल्क एम्बूलेंस से ले जाने की सहमति भी प्रदान की गई जिसक किराया ट्रस्ट वहन किया जाएगा।
समीक्षा बैठक में विधायक पानाचंद मेघवाल, जिला कलक्टर राजेन्द्र विजय, सीईओ जिला परिषद बृजमोहन बैरवा, सीएमएचओ डॉ. संपतराज नागर, पीएमओ डॉ. बिहारी लाल मीणा, धर्मादा संस्था के अध्यक्ष विमल बंसल, क व्यापार संघ अध्यक्ष हेमराज गोयल, व्यापार मण्डल अध्यक्ष देवकीनंदन बंसल, धर्मादा संस्था के मंत्री छीतरलाल नगर, धर्मादा संस्था के लेब प्रभारी अशोक बोर्ड़िया आदि मौजूद थे।
——00——
फोटो केप्शन:-
1 व 2 – खान व गोपालन मंत्री प्रमोद जैन भाया सर्किट हाउस बारां में कोविड-19 के तहत समीक्षा बैठक लेते हुए।

Leave a Reply