बूंदी 7 मई। कोटा रेंज पुलिस महानिरीक्षक रविदत्त गौड़ ने पुलिस निरीक्षक पद पर एक दर्जन भर स्थानांतरण और पदस्थापन किए गए जिनमें से कोटा शहर से पुलिस निरीक्षक सहदेव मीणा को बूंदी पुलिस निरीक्षक पद पर लगाया गया।
सीआई सहदेव मीणा को कोटा शहर से बूंदी में स्थानांतरण किया गया।
बूंदी जिले में तीन थानों में एसआई पद पर रहकर सहदेव मीणा ने कई अपराधों पर अंकुश लगाया था। सहदेव मीणा जब एएसआई पद पर थे तब बूंदी जिले के हिंडोली थाने, बूंदी कोतवाली, दई थाने में दबंगता से कार्य किया है। जिसमें बूंदी कोतवाली में जबरदस्त सट्टे की कार्रवाई कर पूर्ण अंकुश लगाया, आजीवन कारावास के पुलिस कस्टडी से फरार आरोपी पप्पू मीणा को ग्राम ईसरदा से गिरफ्तार करके लाये, बड़ी मात्रा में सैकड़ों की संख्या में भांग के बोरे पकड़े गए, वाहन चोर गिरोह का पर्दाफाश कर देवली से शूटर को गिरफ्तार करके लाये जिससे कि आधा दर्जन से अधिक दुपहिया वाहनों की चोरी आरोपी था जिस को पकड़कर मोटरसाइकिल बरामद की गई। बूंदी शहर में एक समय गुंडों का आतंक एक दूसरे के प्रति स्पर्धा के चलते शहर में कई बार झगड़े होते ऐसे हार्डकोर क्रिमिनलओ को भी धरपकड़ की गई, प्रॉपर्टी व्यवसाई के चलते एक दूसरे के जान के दुश्मन बने ऐसे अपराधियों पर भी अंकुश लगाया। सीआई सहदेव मीणा को कोटा ग्रामीण एवं शहर से कई थानों में कार्य किया जिसमें कोटा जिला पुलिस अधीक्षक ने पवन मीणा को रामपुरा थाने में सट्टे के लगातार कारोबार को अंकुश न लगा पाने के कारण निष्क्रिय रहने पर पवन मीणा को निलंबन कर उनके स्थान पर सीआई सहदेव मीणा को लगाया गया जहां पर रामपुरा क्षेत्र में सट्टे की कार्रवाई पर इनके समय रहते अंकुश लगाया गया। कोटा से पहलेे भीलवाड़ा जिले में बागोर थाना अधिकारी पद पर रहते हुए कार से 1 क्विंटल अफीम डोडा पकड़ा जिसकी कीमत एक लाख करीबन थी जहां पर भी थाना अधिकारी सहदेव मीणा के नाम से अपराधी कुछ समय के लिए भूमिगत हो गए थे। देखना यह है कि है जिला पुलिस अधीक्षक शिवराज मीणा द्वारा सीआई सहदेव मीणा को उनके कार्य को देखते हुए किस थाने में उनकी तैनात करते हैं बूंदी शहर कोतवाली एवं बूंदी जिले के थाना दबलाना कहां इनको लगाया जाता है।

Leave a Reply