कोटा में कोरोना का कहर जारी है। महज एक ही दिन में कोटा में 21 मरीजों की मौत हो गई। ये सभी कोविड हॉस्पिटलों में एडमिट थे। जबकि सरकारी रिपोर्ट में सिर्फ 4 मौतें बताई गई हैं। स्टेट की ओर से जारी रिपोर्ट में बुधवार को 687 नए मरीज बताए गए हैं। हालात इतने बुरे हैं कि मुक्तिधाम में वेटिंग की नौबत है, चिताएं जलाने के लिए जगह कम पड़ रही है ।

मेडिकल कॉलेज के सूत्रों ने बताया कि मंगलवार रात 12 बजे से बुधवार शाम 5 बजे तक नए अस्पताल के विभिन्न वार्डों में 12 और सुपर स्पेशियलिटी के वार्डों में 8 रोगियों की मौत हुई है। वहीं, एमबीएस अस्पताल के कोविड वार्डों में एक रोगी ने दम तोड़ा है ।

कुछ ‘दिनों में नए मरीजों की संख्या जरूर कम हो रही है, लेकिन मौतों का आंकड़ा तेजी से बढ़ रहा है। ये वे मौतें हैं, जो अस्पताल में हो रही हैं। इसके अलावा कई लोगों की घरों पर ही सांसें टूट रही हैं। वहीं जलदाय विभाग के 14 में से 5 एक्सईएन, एईएन व जेईएन कोरोना पॉजिटिव हो चुके हैं।

इनमें एक एक्सईएन, तीन एईएन व एक जेईएन शामिल हैं। कोरोना से 3 रेलकर्मियों की मौत हो गई और 17 नए कोरोना पॉजिटिव सामने आए हैं। रेलवे वर्कशॉप के चीफ ओएस प्रेमचंद शर्मा की कोरोना से मौत हो गई ।

Leave a Reply