• टीम जीवनदाता के प्रयास से मरीजों को मिल रही राहत की सांस , दो डोनर्स ने एम बी एस ब्लड बैंक पहुंचकर चार को बचाया, संख्या पहुँची 583 पर
    कोटा। पुलिस में रहते हुए निरंतर लोगों की सेवा करने का अवसर मिला, लेकिन जब कभी भी जनमानस की सेवा का मौका मिला तो उस फर्ज को भी निभाने का पूरा प्रयास किया। मानव जीवन सर्वश्रेष्ठ है, इसी और खूबसूरत लोगों की मदद करके ही बनाया जा सकता है। ये बात गुमानपुरा थानाधिकारी मनोज सिंह सिकरवार (45) ए पॉजिटिव, महालक्ष्मी ऐनक्लेव निवासी ने बुधवार को प्लाज्मा डोनेशन के अवसर पर कही। सिकरवार ने कहा कि कोविड के समय कर्फ्यू ड्यूटी में राशन वितरण व अन्य व्यवस्थाओं के दौरान वह पॉजिटिव हुए, लेकिन मन में खुशी थी कि प्लाज्मा डोनेशन कर किसी की सेवा की जाएगी। सिकरवार अब तक 40 बार ब्लड डोनेशन कर चुके हैं, जिसमें से 20 बार उन्होंने लाइव डोनर का कर्तव्य निभाया। किसी को भी जब भी आवश्यकता होती है तो वह एक कॉल पर ब्लड देने पहुंच जाते हैं। टीम जीवनदाता के संयोजक व लायंस क्लब के जोन चेयरमैन भुवनेश गुप्ता ने बताया कि दूसरे डोनर के रूप में रंगबाडी निवासी, प्रोपट्री व्यवसायी, नगेश गुप्ता, (40) बी पॉजिटिव ने प्लाज्मा डोनेशन किया। गुप्ता ने कहा कि जो भी हम सेवा कर रहे हैं, ये हमारे भविष्य का आधार है, सेवा से ही सदमार्ग प्रशस्त होता है। इनके द्वारा दिया गया प्लाज्मा हेमलता सोनी, अम्बेद चौधरी, अजीत कश्यप व ललित कुमार शर्मा को दिया गया। इस दौरान मोहित दाधिच व सीए मनीष बसंल का विशेष सहयोग रहा। ब्लड बैंक रहकर उन्होंने भुवनेश गुप्ता के साथ मिलकर पूरे दिन व्यवस्था जमाई।

सेवा के सफर में आमजन की बढे भागीदारी
टीम जीवनदाता द्वारा पिछले लम्बे समय से प्लाज्मा के लिए कार्य किया जा रहा है और सैकडों मरीजों को प्लाज्मा उपलब्ध कराया जा चुका है, ऐसे में कोटा वासियों का सहयोग निरंतर मिल रहा है, भुवनेश गुप्ता ने कहा कि सेवा का ये सफर आगे भी जारी रहे इसके लिए नए सेवाभावी प्लाज्मा डोनर्स को आगे आना चाहिए। एक भी जान बचती है तो आपका जीवन सफल होगा और एक परिवार को बिखरने से बचाया जा सकेगा।

Leave a Reply