महाराष्ट्र के नासिक में ऑक्सीजन टैंकर लीक होने से 22 मरीजों की जान चली गई। डॉ. जाकिर हुसैन अस्पताल में दूसरे टैंकर को भरते समय एक ऑक्सीजन टैंकर लीक हो गया। इससे अस्पताल में काफी देर के लिए ऑक्सीजन सप्लाई बाधित रही। इसी दौरान वेंटीलेटर पर मौजूद 22 मरीजों की मौत हो गई। घटना से हाहाकार मचा है।

सरकार का कहना है कि घटना वाकई दुखदायी है। शुरुआती जानकारी के मुताबिक 22 मरीजों की जान ऑक्सीजन सप्लाई बाधित होने से चली गई है। घटना की विस्तृत रिपोर्ट तलब की गई है। इसके लिए एक जांच कमेटी भी गठित की गई है। एफडीए मंत्री राजेंद्र शिंगाने का कहना है कि घटना के लिए दोषी लोगों को सजा मिलेगी। उनका कहना है कि टैंकर के वाल्व में खराबी होने की वजह से बड़े पैमाने पर टैंकर से ऑक्सीजन रिसने लग गई थी। इसी रिसाव का असर अस्पताल में मौजूद मरीजों की ऑक्सीजन सप्लाई पर पड़ा।

टीवी रिपोर्ट के मुताबिक घटना के वक्त अस्पताल के वेंटीलेटर पर 23 मरीज थे। इनमें से ही 22 मरीजों ने दम तोड़ा। फिलहाल तकरीबन 35 मरीजों की हालत नाजुक बताई जा रही है। इन सभी को ऑक्सीजन की बेहद जरूरत है। लेकिन अभी अस्पताल में ऑक्सीजन की सप्लाई पूरी तरह से बाधित हो गई है। अस्पताल प्रशासन का कहना है कि स्थिति पर काबू पाने की कोशिश जारी हैं।

Leave a Reply