केंद्र सरकार की ओर से 18 वर्ष से अधिक उम्र के सभी लोगों के लिए टीकाकरण की घोषणा के बाद कई राज्यों मे अपने यहां सबको मुफ्त में कोरोना की वैक्सीन देने का फैसला किया है। केंद्र के फैसले के बाद पहले उत्तर प्रदेश ने सबको मुफ्त में टीका देना का फैसला लिया उसके बाद मध्य प्रदेश और बिहार और छत्तीसगढ़ ने भी ऐलान कर दिया।

अब केरल सरकार ने कहा है कि वो अपने राज्य के लोगों को मुफ्त में कोरोना वायरस का टीका देगा। केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने बुधवार शाम को कहा कि उनकी सरकार 18 साल से अधिक उम्र के सभी लोगों को मुफ्त में टीका मुहैया करवाएगा। विजयन ने कहा कि राज्य सरकारों को टीका खरीदने के लिए कहा गया है लेकिन, कोरोना के कारण राज्य पहले से ही वित्ती बोझ से गुजर रहे हैं। उन्होंने कहा कि राज्यों को आर्थिक संकट की ओर से धकेलने के बजाय केंद्र को राज्यों को मुफ्त में टीका देना चाहिए।

मुफ्त टीके पर क्या बोले यूपी के मुख्यमंत्री?
यूपी में मुफ्त वैक्सीनेशन का ऐलान करते हुए सीएम ने कहा कि राज्य सरकार अपने संसाधनों से टीकाकरण कार्यक्रम को आगे बढ़ाएगी। मुख्यमंत्री  ने कहा कि टीकाकरण अभियान को व्यापक स्तर पर संचालित करने के लिए स्वास्थ्य विभाग कार्य योजना बनाकर कार्य करे। हमे वैक्सीनेशन सेन्टर बढ़ाने होंगे। लक्षित आयु वर्ग के लोगों का डेटा बेस तैयार करना होगा। साथ ही वैक्सीन की डोज की आवश्यकता का आकलन कर उत्पादकों से इसकी सुचारू आपूर्ति के प्रबंध भी करने होंगे। उन्होंने टीके के लिए कोल्ड चेन सहित सुरक्षित भंडारण और परिवहन के लिए भी व्यवस्था करने पर बल दिया।

बिहार में पहले से ही चल रहा है मुफ्त टीकाकरण
वहीं, बिहार में टीकाकरण अभियान पहले से ही मुफ्त में चल रहा है। राज्य में विधानसभा चुनाव से पहले ही एनडीए ने अपने घोषणा पत्र में सभी को मुफ्त टीका देना का वादा किया था। जब सत्ता में आई तो कैबिनेट की पहली बैठक में ही मुफ्त में टीका देने पर मुहर लगा दी गई थी। जिसके बाद से राज्य में सभी को मुफ्त में टीका दिया जा रहा है। चाहे वो प्राइवटे अस्पताल हो या फिर सरकारी, हर जगह फ्री में टीकाकरण किया जा रहा है। बुधवार को खुद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ट्वीट कर सभी को मुफ्त में टीका देने की बात कही है

Leave a Reply