पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी आज कोचबिहार पहुंच गई हैं. वह सीतलकुची विधानसभा क्षेत्र अंतर्गत बूथ संख्या 126 पर सीआईएसएफ की गोली से मारे गए चार युवकों के परिवार वालों से मुलाकात कर रही हैं.

खास बात है कि 126 नंबर बूथ पर जिस युवक की सबसे हत्या हुई थी, उसके परिजन भी ममता से मिलने पहुंचे हैं. इस युवक का नाम आनंद बर्मन है. पहले इसके परिजनों ने ममता बनर्जी से मिलने से इनकार कर दिया था और कहा था कि टीएमसी के गुंडों को गिरफ्तार किया जाए. अब ऐन वक्त पर आनंद बर्मन के नाना खितिज राय, ममता बनर्जी से मिलने पहुंचे हैं.

ममता बनर्जी के तय कार्यक्रम के मुताबिक सुबह 10 बजे माथा भंगा पहुंचीं और पीड़ित परिवार वालों से मुलाकात कर रही हैं. माथा भंगा अस्पताल के सामने स्थित मैदान में ममता बनर्जी का चॉपर उतरा. माथा भंगा में ही ममता एक रैली को संबोधित करने वाली हैं, उससे पहले वो पीड़ित परिवार वालों से मिल रही हैं.

ममता बनर्जी से मुलाकात करने के लिए चारों मृतक युवक के परिवार वाले सुबह ही माथा भंगा पहुंचे. मुलाकात से पहले परिवार वालों ने उम्मीद जताई थी कि ममता बनर्जी से मुलाकात करने के बाद इस पूरे मामले में उन लोगों को न्याय मिलेगा.

गौरतलब है, शनिवार को चौथे चरण के मतदान के दौरान हुई हिंसा में सीआईएसएफ की गोली लगने से सीतलकुची विधानसभा क्षेत्र के बूथ संख्या 126 पर चार युवकों की मौत हो गई थी.

इस पूरी घटना के बाद ममता बनर्जी ने ऐलान किया था कि वह रविवार को कूचबिहार आएंगी और पीड़ित परिवार वालों से मिलेंगी मगर चुनाव आयोग ने किसी भी राजनेता या फिर राजनीतिक दल से जुड़े लोगों को कूचबिहार में 72 घंटे के लिए घुसने पर पाबंदी लगा दी थी.

Leave a Reply