जयपुर। प्रदेश में पड़ोसी राज्यों की तुलना में पेट्रोल और डीजल महंगा होने के विरोध में शनिवार को पेट्रोल पंप सुबह 6 से रात 12 बजे तक बंद रहेंगे। राजस्थान पेट्रोल पंप डीलर्स एसोसिएशन ने बंद का यह निर्णय किया है। जिसके तहत पेट्रोल, डीजल और आयल की खरीद और बिक्री बंद रखी जाएगी। इससे प्रदेश में इसकी बिक्री में 34 प्रतिशत तक की गिरावट आ गई है और डीलर्स के साथ साथ सरकार को भी राजस्व का नुकसान हो रहा है। एसोसिएशन के अध्यक्ष सुनीत बगई ने बताया कि राजस्थान में राज्य सरकार की ओर से वेट दरों में वृदिृध के कारण प्रदेश में पड़ोसी राज्यों की तुलना में करीब 5 से 10 रुपए तक महंगा है। उन्होंने कहा कि महंगाई से जनता की भी कमर टूट रही है। बगई ने कहा कि राज्य में पेट्रोल डीजल पर वैट कम करने और प्रदेश स्तर पर एक समान मूल्य रखे जाने की मांग को लेकर यह एक दिवसीय हड़ताल की जा रही है। मांगे नहीं मानने पर 25 अप्रेल से अनिश्तिकालीन हड़ताल की चेतावनी भी उन्होंने दी है।
3 करोड़ लीटर पेट्रोल डीजल की बिक्री होगी प्रभावित-एसोसिएशन की वेट स्टीयरिंग कमेटी एवं विधी परामर्शी डॉ.राजेन्द्र सिंह भाटी ने बयान जारी कर प्रदेश के करीब 7 हजार पेट्रोल पंप बंद रहेंगे। इनके बंद रहने पर करीब 3 करोड़ लीटर पेट्रोल डीजल की बिक्री बंद प्रभावित होने का अनुमान है। जिससे सरकार को रोड सेस सहित करीब 34 करोड़ रुपए सेस की हानि होगी। उन्होंने कहा कि एसोसिएशन ने पंजाब के समान वैट करने की मांग राज्य सरकार से की थी, लेकिन उस पर ध्यान नहीं दिया गया। इस हड़ताल को विश्वकर्मा क्षेत्रीय ट्रांसपोर्ट व्यापार मंडल समिति, राजस्थान टैंकर ट्रांसपोर्टेशन एसोसिएशन ने भी समर्थन किया है। हड़ताल के दौरान आपातकालीन वाहनों अग्निशमन, एंबुलेंस व अन्य वाहनों को आपूर्ति की जाएगी।
०००००००००००००००००००००००००००००००००००००

Leave a Reply