झालावाड़ 28 दिसम्बर। जिला कांग्रेस मुख्यालय पर पार्टी के ध्वजारोहण के साथ 136वां स्थापना दिवस समारोह शुरू हुआ। जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष कैलाश मीणा ने पार्टी का ध्वज फहराया और उपस्थित पदाधिकारियों अधिकारियों के साथ ध्वज को सलामी दी और कहा कि आज का दिन ऐतिहासिक दिन है। जब 28 दिसम्बर 1885 को भारतीय राष्ट्रीय कांग्र्रेस की स्थापना हुई। कांग्रेस भारत की सर्वाधिक प्राचीन पार्टी है, जो निचले तबके और गरीब लोगों के कल्याण के प्रति आज भी समर्पित है। इसके पश्चात् आयोजित गोष्ठी की अध्यक्षता करते हुए कैलाश मीणा ने कहाकि कांग्रेस का इतिहास दुनिया की सभी राजनेतिक पार्टियों से पुराना गौरवशाली इतिहास है। कांग्रेस ने हमेशा कुर्बानी दी है। महात्मा गांधी, इन्दिरा गांधी, राजीव गांधी ने बलिदान दिये उन्होंने कहा कि हम उस पार्टी के कार्यकर्ता है जिसने आजादी के आन्दोलन का नेतृत्व किया और एक मजबूत लोकतंत्र की आधारशिला रखी। इस अवसर पर जिला कांग्र्रेस पदाधिकारियों व कार्यकर्ता से कहाकि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत वे प्रदेशाध्यक्ष गोविन्दसिंह डोटासरा द्वारा कृषि कानूनों के विरोध में व किसान हित में जन जागरण अभियान को गम्भीरता से लेते हुए 30 दिसम्बर तक किसानों एवं आमजन तक पहुंचाये। जिला कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष रघुराजसिंह हाड़ा ने कहाकि सर्वधर्म सम्भाव यह वह संस्कृति है जो विविधता में एकता कायम करती है। कांग्रेस पार्टी जन्म से ही धर्मनिरपेक्ष पार्टी है और धर्मनिरपेक्षता से ही देश को एकता में बांधे रखा है। पूर्व विधायक मोहनलाल राठौर ने कहाकि कांग्रेस पार्टी के नेताओं ने देश की एकता व अखण्डता के बनाये रखने के लिए अपनी कुर्बानी दी है और पार्टी ने अपने सिद्धान्तों पर कायम रहते हुए राष्ट्र को मजबूती प्रदान की है आओ हम सब इस अवसर पर एक जुट होकर विभाजनकारी नीतियों के खिलाफ शान्ति एवं सद्भावना का संदेश दें। कार्यक्रम का संचालन कांग्रेस वरिष्ठ प्रवक्ता मोहम्मद शफीक खांन ने किया। कार्यक्रम में लोकसभा प्रत्याक्षी प्रमोद शर्मा, पी.सी.सी. सदस्य एवं खानपुर विधानसभा प्रत्याक्षी सुरेश गुर्जर, जिला कांग्रेस पदाधिकारी नरेश जैन, सलीम भाई डगवाला, विजय जैन एडवोकेट, चन्द्रसिंह राणा, बृजमोहन बैरवा, मुबारिक मंसूरी, नासिर मंसूरी, छगनसिंह गुर्जर, ओम पाठक, रईस खांन, श्यामसिंह चौहान, राहुल गोयल, खादी ग्रामोद्योग प्रकोष्ठ के प्रदेश महासचिव नन्दलाल राठौर, सेवादल के जिलाध्यक्ष नन्दसिंह राठौड़, सभापति मनीष शुक्ला, नगर अध्यक्ष नफीस शेख संजिदा बेगम, हसनराजा, रमजान खांन, अरबाज खांन, बापूलाल दांगी, भंवरलाल मेघवाल, आलमगीर, गणेश सोनी, शाहिद राज कुरैशी, अहफाज अली, अंजना बैरवा, मनीष शर्मा, महेन्द्रसिंह, सलमा बानों, नन्दलाल प्रजापति, तोकिर अहमद, मोहनलाल सुतार, राधेश्याम बागरी, अकरम मंसूरी इमाम सहित अनेक कार्यकर्ता मौजूद रहे। इसके पश्चात् जय जवान जय किसान तिरंगा यात्रा कृषि कानूनों के विरोध में किसानों के हित में निकाली गयी जो कांग्रेस मुख्यालय से प्रारम्भ होकर शहर के मुख्य चौराहों से होती हुई शहीद निर्भय सिंह सर्किल पर जाकर सम्पन्न हुई।

Leave a Reply