प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार शाम छह बजे राष्ट्र के नाम संदेश दिया। प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन पर सिर्फ कोरोना संक्रमण पर बात रखी। मोदी ने कहा कि कोरोना के खिलाफ लड़ाई में जनता कर्फ्यू से लेकर मौजूदा समय तक सभी भारतवासियों ने बहुत लंबा सफर तय किया है। अब आर्थिक गतिविधियों में भी तेजी नजर आ रही है। लोग फिर से घरों से बाहर निकल रहे हैं। बाजारों में रौनक धीरे-धीरे लौट रही है। मोदी ने कहा कि लोगों को याद रखना है कि लॉकडाउन चला गया मगर वायरस अभी नहीं गया है। भारतीयों के प्रयास से देश आज संभली हुई स्थिति में है। इसे अब बिगड़ने नहीं देना है और इसे और सुधारना है।

मोदी ने कोरोना पर कहा कि देश में रिकवरी रेट अच्छा है। भारत में प्रति दस लाख की आबादी में करीब 5500 लोगों को कोरोना हुआ है वहीं अमेरिका और ब्राजील जैसे देशों में यह आकंड़ा 25 हजार के करीब है। भारत में प्रति 10 लाख लोगों में मृत्यु दर 83 है जबकि अमेरिका ब्राजील स्पेन और ब्रिटेन जैसे अनेक देशों में यह आंकड़ा 600 के पार है। मोदी ने कहा कि दुनिया के साधन संपन्न देशों की तुलना में भारत अपने ज्यादा से ज्यादा नागरिकों का जीवन बचाने में सफल हो रहा है। आज हमारे देशो में कोरोना मरीजों के लिए 90 लाख से ज्यादा बेड की सुविधा है। 12,000 से ज्यादा क्वारंटाइन सेंटर हैं, 2,000 से अधिक लैब काम कर रही हैं। जिसमें टेस्ट की संख्या 10 करोड़ के आंकड़े को पार कर जाएगी।

Leave a Reply