कोटा,6 सितंबर। बोरखेड़ा थाना पुलिस ने रविवार शाम को बाइक चोर गैंग का पर्दाफाश करते हुए 2 व्यक्तियों को गिरफ्तार कर चोरी की 31 बाइकें बरामद की। पुलिस ने एक किशोर को भी निरुद्ध किया, जिसे बाल सम्प्रेषण गृह भिजवाया गया।
सिटी एसपी गौरव यादव ने बताया कि शहर में आए दिन वाहन चोरी की वारदातें बढऩे से वाहन चोरों के खिलाफ प्रभावी कार्रवाई के लिए गठित विशेष टीम ने कार्रवाई करते हुए इस वर्ष की सबसे बड़ी वाहनों की रिकवरी की है। बोरखेड़ा थाना अधिकारी महेन्द्र कुमार मीणा के नेतृत्व में 5 सितंबर को गश्त के दौरान दो संदिग्ध व्यक्तियों समेत एक किशोर को एक बिना नंबर की बाइक पर राज नगर के पास से पकड़ा। तीनों के नाम पते पूछे तो एक ने राजेन्द्र उर्फ राजू व दूसरे ने नवल मेघवाल निवासी राजनगर थाना बोरखेड़ा बताया। इनके साथ एक विधि से संघर्षरत बालक भी साथ में था। उसे आरोपियों से बरामद बिना नंबर की बाइक के बारे में पूछताछ की, तो उसने बाइक को बोरखेड़ा में रॉयल मैरिज गार्डन के पास से चोरी करना बताया।
पुलिस ने बाइक चोरी करने के संबंध में गहनता से पूछताछ की, तो आरोपियों ने कोटा शहर एवं आसपास के जिलों से अन्य बाइक चोरी की वारदातें कबूल की है। जिस पर उनके कब्जे से चोरी की कथित बाइकों को बरामद किया गया है। जिनकी अनुमानित कीमत 10 लाख रुपए है। बरामद की गई बाइकों में से 15 प्रकरण विभिन्न स्थानों पर वाहन चोरी के पंजीबद्ध होना पाया गया है। शेष 16 वाहनों को 102 सीआरपीसी में जप्त कर जांच जारी है। यह कोटा शहर में दुपहिया वाहन की इस वर्ष में की गई सबसे अधिक बरामदगी है। इस वारदात के खुलासे में सहायक उप निरीक्षक कमल सिंह, बृजलाल, हेड कांस्टेबल धर्मवीर, कांस्टेबल धनराज, हकीम सिंह व चन्द्रप्रकाश का सहयोग रहा।

Leave a Reply