कोटा 28 अगस्त। कोरोना वायरस महामारी के कारण केन्द्र, राज्य सरकार एवं जिला प्रशासन द्वारा समय-समय पर जारी गाइडलाइन के अनुसार जिले में समस्त सामाजिक, राजनैतिक, खेल, मनोरंजन, सांस्कृतिक, धार्मिक कार्यक्रम एवं अन्य बड़े सामूहिक आयोजनों पर पूर्ण रुप से प्रतिबंध लगाया गया है। इसी क्रम में जिला कलक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट उज्ज्वल राठौड़ ने आदेश जारी कर जिले में आगामी दिवसों में मनाए जाने वाले विभिन्न पर्वों एवं त्यौहारों पर विभिन्न समुदायों द्वारा आयोजित होने वाले समस्त सामूहिक कार्यक्रमों, जुलूसों और शोभा यात्राओं को पूर्ण रुप से निषेध एवं प्रतिबंधित किया है।

आदेशानुसार जिला मजिस्ट्रेट ने इन पर्वों एवं त्यौहारों के दौरान जिले में साम्प्रदायिक सदभाव एवं कानून व्यवस्था बनाए रखने के साथ-साथ कोरोना वायरस महामारी के संक्रमण को रोकने के लिए गाइडलाइन की पालना कराने के लिए जिले के समस्त उपखण्ड मजिस्ट्रेट को उनके कार्य क्षेत्र में ड्यूटी मजिस्ट्रेट एवं समस्त तहसीलदार और कार्यपालक मजिस्ट्रेट को सहायक ड्यूटी मजिस्ट्रेट नियुक्त किया है।

जिला मजिस्ट्रेट ने ड्यूटी मजिस्ट्रेट एवं सहायक ड्यूटी मजिस्ट्रेट को निर्देशित किया है कि वे इन पर्वों एवं त्यौहारों के दौरान लगातार निगरानी रखते हुए साम्प्रदायिक सदभाव, कानून एवं शांति व्यवस्था बनाए रखने एवं कोविड-19 महामारी को ध्यान में रखते हुए समय-समय पर जारी गाइडलाइन की पालना कराना सुनिश्चित करें। उन्होंने यह भी सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं कि इस दौरान सोशल मीडिया पर कोई आपत्तिजनक सामग्री प्रचारित नहीं हो पाए और स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय भारत सरकार द्वारा धार्मिक स्थलों के संबंध में जारी मानक संचालन प्रक्रिया की पालना सुनिश्चित की जाए।

Leave a Reply