लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला के प्रयासों से 11 वर्ष बाद पूरी होगी शहर की मांग
कोटा, 26 अगस्त । लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला के प्रयास आखिर रंग लाए। इस वर्ष कोटा में भी जेईई एडवांस्ड परीक्षा का सेंटर होगा। केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय और आईआईटी दिल्ली ने इसके लिए सैद्धांतिक सहमति दे दी है। परीक्षा केंद्र स्थापना के औपचारिक आदेश जल्द‍ जारी होंगे। इसके बाद शहर में परीक्षा केंद्र की पुन: प्रारंभ करने की करीब 11 वर्ष पुरानी मांग पूरी हो सकेगी।

कोटा में वर्ष 2009 की जेईई के बाद परीक्षा केंद्र बिना कारण बताए बंद कर दिया गया था। इस कारण कोटा में पढ़ रहे विद्यार्थियों को परीक्षा देने के लिए अन्य शहरों को जाना पड़ता था। इससे न सिर्फ विद्यार्थियों बल्‍कि उनके अभिभावकों को मानसिक, शारीरिक व आर्थिक परेशानी का सामना करना पड़ रहा था। इस परेशानी को देेेेेेखते हुए विद्यार्थी और अभिभावक कोटा में ही परीक्षा केंद्र पुन: स्‍थापित करने की लगातार मांग कर रहे थे।

इस संबंध में लोकसभा अध्यक्ष बिरला ने पिछले दिनोंं केन्द्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक से बात की थी। उन्होंने निशंक से कहा कि कोटा में परीक्षाओं को आयोजित करने के लिए स्वस्थ माहौल है। बच्चों की परेशानियों को देखते हुए कोटा में ही परीक्षा केन्द्र पुनः स्थापित किया जाना आवश्यक है। निशंक ने इस मामले में कार्यवाही शीघ्र आवश्यक कार्यवाही का आश्वासन दिया था।

मानव संसाधन मंत्रालय से निर्देश मिलने के बाद एक 4 सदस्यीय समिति का गठन कर कोटा में जेईई-2020 और उसके बाद की परीक्षाओं के आयोजन के लिए स्थिति का आकलन कर रिपोर्ट तैयार करने के निर्देश दिए गए थे। समिति ने विस्तृत जांच, विभिन्नि पक्षों से चर्चा तथा परिस्थितियों का आकलन करते हुए कोटा में जेईई एडवांस्ड के परीक्षा केंद्र की स्थापना के लिए सिफारिश की। जल्‍द ही कोटा में जेईई एडवांस्‍ड-2020 का परीक्षा केंद्र स्थापित किए जाने केे आदेश जारी हो जाएंगे।

Leave a Reply