जयपुर 15 अगस्त । दौसा के सिकंदरा इलाके में नौकरी का झांसा देकर महिला से बलात्कार करने के मामले में पुलिस की ओर से कार्रवाई नहीं किए जाने पर आज पीड़िता ने जयपुर में प्रेस वार्ता कर उसे न्याय दिलाने की मांग की.
पीड़िता ने बताया कि 2007 में उसका विवाह हुआ. उसका पति जैसलमेर में नौकरी करता था. उसके पति के दोस्त जगमोहन का उसके घर आना जाना था. जगमोहन उसे आंगनबाड़ी में नौकरी लगाने का झांसा दे रहा था.
नौकरी का झांसा देकर वर्ष 2018 में जगमोहन उसके घर आया और उसके साथ दुष्कर्म किया. उसके बाद अक्टूबर 2018 में नवरात्रि के दिन भी नौकरी का झांसा देकर और डरा धमकाकर जगमोहन ने उसके साथ दुष्कर्म किया और फिर लगातार उसका देह शोषण करता रहा. पति के गांव लौटने पर उसने दुष्कर्म की बात बताई तो पति ने भी पीड़िता के साथ मारपीट की और उसे घर से निकाल दिया. महिला के पीहर जाने के बाद उसके पति ने दूसरा विवाह कर लिया. जुलाई 2020 में पीड़िता ने सिकंदरा थाने में मुकदमा दर्ज करवाया लेकिन पुलिस ने आरोपी के खिलाफ कोई कार्रवाई नही की.
पीड़िता ने महिला आयोग और पुलिस के अधिकारियों को भी मामले की शिकायत दी लेकिन फिर भी कार्रवाई नहीं होने पर पीड़िता ने आज जयपुर में मीडिया के सामने न्याय की गुहार लगाते हुए दोषी लोगों को सजा दिलवाने की मांग की है.

Leave a Reply