जयपुर, 23 अगस्त। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने रविवार को राजस्थान भाजपा की वर्चुअल बैठक में राजस्थान में चले सियासी संकट और कांग्रेस विधायकों की बाड़ाबंदी को लेकर कांग्रेस पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि जब कोरोना महामारी से जूझ रहे लोगों की सेवा की बारी आई तो कांग्रेस विधायक पांच सितारा होटलों में चले गए। कोई मुगल-ए-आजम तो कोई शोले देख रहा था। कई विधायक इटालियन डिश बना रहे थे। कांग्रेस की गुटबाजी पर निशाना साधते हुए नड्डा कहा कि कांग्रेस की आपसी लड़ाई सभी के सामने है। इनके बीच समझौता किस आधार पर हुआ है, यह समझ से परे है। छोटी-छोटी बातों पर राजनीति होती है तो अच्छी-अच्छी पार्टियों में बिखराव आ जाता है। इसका जीता जागता नमूना सभी के सामने है। कांग्रेस अपना घर संभाल नहीं पाई और दोष भाजपा को दिया जा रहा है। उन्होंने भाजपा कार्यकर्ताओं से अपील की है कि यह बात जनता के बीच रखनी है। राष्ट्रीय अध्यक्ष नड्डा ने प्रदेश की कानून व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए कहा कि राजस्थान में अपराधों में 80 प्रतिशत बढ़ोतरी हुई है। महिला उत्पीडऩ 122 और दलित उत्पीडऩ 92 प्रतिशत बढ़ा है। आदिवासी उत्पीडऩ में 101 प्रतिशत बढ़ोतरी हुई है। उन्होंने आरोप लगाया कि कोरोना संकट के दौरान पीपीई किट समेत तमाम खरीद-फरोख्त में भ्रष्टाचार हुआ है। राज्य का सरकारी ढांचा चरमरा गया है। बिजली के बिलों में बढ़ोतरी की गई। नड्डा ने भाजपा कार्यकर्ताओं का आह्वान करते हुए कहा कि सरकार की नामकामियों को जनता तक पहुंचाए। जनता को उद्वेलित करें। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां ने कहा कि भाजपा प्रदेश पदाधिकारियों और जिला अध्यक्षों की यह सेमी वर्चुअल मीटिंग थी। सभी जिला संगठनों और मंडलों के गठन की प्रकिया लगभग पूरी हो गई है। बूथ समितियों के गठन की प्रक्रिया चल रही है। बैठक में राष्ट्रीय सह संगठन मंत्री वी सतीश एवं प्रदेश संगठन महामंत्री चंद्रशेखर, प्रतिपक्ष नेता गुलाबचंद कटारिया, प्रतिपक्ष उप नेता राजेंद्र सिंह राठौड़ भी उपस्थित थे।

Leave a Reply