कोटा, 23 अगस्त । शहर के दो अलग-अलग थाना क्षेत्रों में रविवार को एक बुजुर्ग महिला व एक व्यक्ति की एमबीएस अस्पताल में मौत होने पर डॉक्टरों ने दोनों की मौत को संदिग्ध मानते हुए शव को कोविड-19 के लिए न्यू मेडिकल कॉलेज भिजवाया। कोविड की रिपोर्ट आने के बाद ही शव परिजनों को सौंपा जाएगा।

जानकारी के अनुसार रेलवे कॉलोनी थाना क्षेत्र के महावीर कॉलोनी निवासी अजय कुमार (38) पुत्र रामप्रसाद महावर सुबह मोटरसाइकिल लेकर घर पर पहुचा था। गाड़ी खड़ी करते समय युवक को अचानक चक्कर आने से गिर गया। परिजनों को पता चलने पर वह उसे लेकर एमबीएस अस्पताल पहुंचे। जहां ड्यूटी डॉक्टरों ने जांच के बाद उसे मृत घोषित कर दिया। डॉक्टरों ने युवक की मौत को संदिग्ध मानते हुए शव को कोरोना जांच के लिए न्यू मेडिकल कॉलेज भिजवाया है।
पीड़ित परिजनों का कहना है कि युवक को पहले कोई बीमारी नहीं थी। आरोप है कोरोना जांच के नाम पर परिजनों को परेशान किया जा रहा है, जबकि यह सामान्य मौत है।

संदिग्ध महिला की मौत के बाद शव को कोरोना जांच के लिए भिजवाया

एमबीएस अस्पताल में भर्ती लंबे समय से बीमार बुजुर्ग महिला की देर रात को मौत होने पर रविवार सुबह मृतक महिला के शव को कोरोना जांच के लिए न्यू मेडिकल कॉलेज भिजवाया गया।
कैथून थाना क्षेत्र के भाटापाड़ा वार्ड संख्या 16 निवासी शांति बाई (65) पत्नी ज्ञानचंद जागा लंबे समय से बीमारी से पीड़ित थी। जिसकी तबीयत अधिक खराब होने पर परिजन 22 अगस्त को एमबीएस अस्पताल लेकर पहुंचे। जहां उसका उपचार चल रहा था। रविवार देर रात्रि बुजुर्ग महिला ने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। डॉक्टरों ने महिला को संदिग्ध मानते हुए उसकी कोरोना जांच के लिए शव को न्यू मेडिकल कॉलेज में भिजवाया है।

Leave a Reply