जयपुर, 17 अगस्त । बसपा के छह विधायकों के कांग्रेस में विलय के मामले में सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई 24 अगस्त तक टल गई। वहीं हाईकोर्ट की एकलपीठ भी विलय मामले में बसपा पार्टी व मदन दिलावर की याचिकाओं पर 20 अगस्त को अंतिम फैसला देगी। मामले में एकलपीठ ने 17 अगस्त को फैसला देना तय किया था, लेकिन हाईकोर्ट की जयपुर पीठ में कोराना संक्रमण के चलते 19 अगस्त तक न्यायिक और प्रशासनिक कार्य निलंबित रहने के चलते अब एकलपीठ बीस अगस्त को फैसला देगी। गौरतलब है कि मदन दिलावर और बसपा की ओर से दायर याचिकाओं में एकलपीठ की ओर से कोई अंतरिम आदेश नहीं देने पर खंडपीठ में अपील पेश की गई थी। जिस पर सुनवाई करते हुए खंडपीठ ने मामले में एकलपीठ को बसपा पार्टी और मदन दिलावर की स्टे एप्लीकेशंस पर सुनवाई कर फैसला देने का आग्रह किया था। स्टे एप्लीकेशंस में स्पीकर के 18 सितंबर 2019 के बसपा एमएलए के कांग्रेस में विलय के आदेश पर रोक लगाने और सभी छह एमएलए को विधानसभा में होने वाले फ्लोर टेस्ट में मतदान करने से रोकने की गुहार की है। हालांकि एकलपीठ ने स्टे एप्लीकेशंस के बजाए सीधे याचिकाओं पर ही अंतिम निर्णय देना तय किया है।

Leave a Reply