अगर आप बिना किसी रिस्क और नुकसान के इन्वेस्टमेंट करना चाहते हैं, तो उसके लिए सबसे आसान तरीका है बैंक फिक्स्ड डिपॉजिट। इस स्कीम में निवेश पर गारंटीड रिटर्न मिलता है और पैसे डूबने का डर भी नहीं होता है। यही कारण है कि देश में फिक्स्ड डिपोजिट यानी एफडी निवेश की सबसे लोकप्रिय स्कीम्स में से एक है।एफडी एक सुरक्षित निवेश है जहां लोगों को मेच्योरिटी पर रिटर्न की गारंटी होती है। फिक्स्ड डिपोजिट को टर्म डिपोजिट भी कहते हैं। ऐसा इसलिए कि कोई भी निवेशक पहले से तय अवधि के लिए फिक्स्ड डिपोजिट कराता है। ऐसे में आपको फिक्स्ड डिपोजिट कराते समय ही यह मालूम होता है कि मेच्योरिटी के समय आपको कितना रिटर्न मिलने वाला है।इनवेस्ट की अवधि के आधार पर एफडी की ब्याज दरें अलग-अलग होती हैं। ज्यादातर लोग उसी बैंक की एफडी में निवेश करते हैं, जहां उनका सेविंग्स अकाउंट होता है। अक्सर लोग यही सोचते हैं कि जिस बैंक में अकाउंट है वहीं पर एफडी करवाना सही है। मगर ऐसा नहीं है एफडी में पैसा लगाने से पहले ये जान लेना बहुत जरूरी है कि कौन-सा बैंक एफडी पर कितना ब्याज दे रहा है। उसके बाद कि एफडी में पैसा लगाना चाहिए। आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि कौन सा बैंक एफडी पर सबसे ज्यादा ब्याज दे रहा है।एलआईसी हाउसिंग फाइनेंस 12 महीने से 60 महीने के बीच की एफडी पर 7.10 फीसदी से लेकर 7.35 फीसदी तक ब्याज दे रहा है।पीएनबी हाउसिंग फाइनेंस 12 महीने से 120 महीने के बीच की एफडी पर 7.45 फीसदी से लेकर 7.70 फीसदी तक ब्याज दे रहा है।आरबीएल बैंक -अगर आप इस बैंक में तीन साल की एफडी कराते हैं तो बैंक की ओर से आपको 7.25% की दर से ब्याज मिलेगा।आईडीएफसी बैंक- यह बैंक भी तीन साल की सावधि जमा पर ग्राहकों को 7.25 फीसद की दर से ब्याज की पेशकश कर रहा है।एक्सिस बैंक, आईसीआईसीआई बैंक 5.5 फीसदी और एचडीएफसी बैंक 5 साल के इनवेस्ट पर 5.35 प्रतिशत की ब्याज दर की पेशकश कर रहे हैं। वहीं, एसबीआई और बैंक ऑफ बड़ौदा क्रमशः 5.40 फीसदी और 5.30 प्रतिशत का भुगतान करते हैं।

Leave a Reply